इंट्राडे ट्रेडिंग के नियम (2024) | Intraday Trading Rules in Hindi

शेयर बाजार पैसा कमाने का एक अच्छा तरीका है जिसमें कई लोग महीने के लाखों के प्रॉफिट बुक करते हैं लेकिन नए ट्रेंड और इन्वेस्टर शेयर मार्केट में आने के बाद शेयर मार्केट कैसे सीखे के बारे में जानना चाहते हैं उसके बाद Intraday Trading Rules in Hindi के बारे में जानना चाहते हैं।

इन्वेस्टमेंट से लॉन्ग टर्म में पैसा कमाया जाता है लेकिन इंट्राडे से शॉर्ट टर्म में कमाया जाता है ट्रेडिंग कई तरीके के होते हैं जैसे इंट्राडे ट्रेडिंग, ऑप्शन ट्रेडिंग, पेपर ट्रेडिंग, फ्यूचर एंड ऑप्शन ट्रेडिंग आदि। दोस्तों लेकिन सबसे ज्यादा लोकप्रिय इंट्राडे ट्रेडिंग का है जिसमें एक दिन में अच्छा पैसा बनाया जाता है इंट्राडे ट्रेडिंग करने के लिए शेयर मार्केट 9:45 से 4:45 तक खुलता है इसके बीच में किसी भी शेयर को खरीद कर बेचना होता है।

ऐसे में नए ट्रेंड Intraday Trading Rules in Hindi के बारे में जानना चाहते हैं जिससे वह अच्छा प्रॉफिट बना सके तो दोस्तों मैं आज आपको इस लेख के माध्यम से इंट्राडे ट्रेडिंग रूल्स इन हिंदी के बारे में बताऊंगा परंतु इससे पहले अगर आपने अभी तक भारत के बेस्ट ट्रेडिंग अकाउंट में अपना खाता नहीं खोला है तो नीचे लिंक दिया गया है पहले अपना एक डीमैट अकाउंट खोलें

Intraday Trading Rules in Hindi

  • सही शेयर का चयन
  • कम पैसे से इंट्राडे ट्रेडिंग की करे शुरुआत
  • भावनाओं पर नियंत्रण रखें
  • स्टॉप लॉस जरूर लगाए
  • मार्जिन का उपयोग करें
  • ओवर ट्रेडिंग ना करें
  • सीखने की प्रक्रिया जारी रखें

सही शेयर का चयन

शेयर मार्केट में इन्वेस्टमेंट हो या ट्रेडिंग सही शेयर का चयन करना अति आवश्यक है सही से शेयर चुनने के बाद ही शॉर्ट या लॉन्ग टर्म में ज्यादा प्रॉफिट बनाया जा सकता है शेयर मार्केट में अच्छे शेयर का चयन करने के लिए इन प्रमुख पहलुओं पर ध्यान देना आवश्यक है।

  • इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए उन कंपनी के बारे में जाने जिसका इस्तेमाल पूरी दुनिया कर रही है।
  • ऐसे स्टॉक को चुने जिसमें अस्थिर (volatile) हो जिससे अच्छा पैसा कमाया जा सके आप उन शहरों को चयन कर सकते हैं। जिसका वोलेटाइल 10 से 12% हो।
  • स्टॉक की तरलता पर ध्यान दें क्योंकि ऐसे स्टॉक की Entry और Exit थोड़ा मुश्किल होता है।
  • टेक्निकल एनालिसिस करें जिससे शेयर के बारे में अच्छे से जान सके और इंट्राडे ट्रेडिंग करके ज्यादा मुनाफा बनाया जा सके।
  • टेक्निकल एनालिसिस और टेक्निकल इंडिकेटर्स आपको किसी शेयर में इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए काफी मदद करता है और ज्यादा मुनाफा बनाने में भी।
  • इंट्राडे ट्रेडिंग में ज्यादा मुनाफा बनाने के लिए रसी इंडिकेटर (संकेतक) और ADX इंडिकेटर का उपयोग करना सीखे।
  • बाजार में उन पहलुओं पर ध्यान रखें जो इंट्राडे ट्रेडिंग से ज्यादा लाभ कमाने में मदद करते हैं।

कम पैसे से इंट्राडे ट्रेडिंग की करे शुरुआत

बहुत से नए ट्रेंड शेयर बाजार में किसी इनफ्लुएंसर को देखकर शेयर मार्केट में निवेश और ट्रेड करने के बारे में सोचते हैं और जल्दी-जल्दी पैसा कमाने की लालच में डीमैट खाता खोलते हैं और जो भी उनके पास सारे सेविंग होते हैं उन सारे पैसे को वह इंट्राडे ट्रेडिंग में लगा देते हैं और सारा पैसा गवा देते हैं और अंत में कहते हैं शेयर मार्केट जुआ है गैंबलिंग है तो दोस्तों आप उन लोगों से बचे, शेयर मार्केट में छोटे कैपिटल के साथ एंट्री करें और जितना ज्यादा मार्केट को सीखे जिससे लॉन्ग टर्म में ज्यादा प्रॉफिट बनाया जा सके।

इंट्राडे ट्रेडिंग में ज्यादा मुनाफा बनाने के लिए इंट्राडे ट्रेडिंग को सीखे आप सीखने के लिए किसी कोचिंग संस्थान या किसी सफल ट्रेड की सहायता ले सकते हैं और सीख सकते हैं।

भावनाओं पर नियंत्रण रखें

शेयर मार्केट हो या कोई अन्य व्यापार भावना ही आपको सफल, प्रॉफिटेबल और भरोसा बनाने में मदद करेगा दोस्तों शेयर मार्केट में निवेश करने से पहले आपको अपनी भावनाओं पर नियंत्रण करना होगा आप जितना भी पैसा शेयर मार्केट में निवेश करते हैं उन पैसों के बारे में ज्यादा बड़े सपने नहीं देखना चाहिए शेयर मार्केट में निवेश में अपनी भावनाओं पर नहीं अपने रिसर्च पर भरोसा रखें जिससे ज्यादा से ज्यादा प्रॉफिट बन सके इंट्राडे ट्रेडिंग करते वक्त अपने डर पर काबू रखें।

स्टॉप लॉस जरूर लगाए

इंट्राडे ट्रेडिंग से ज्यादा मुनाफा बनाने के लिए जितनी ज्यादा संभावना होती है उतना ही ज्यादा संभावना लॉस का भी होता है इंट्राडे ट्रेडिंग बहुत ज्यादा और अस्थिर है इसलिए प्रत्येक ट्रेड के लिए स्टॉप लॉस लगाना जरूरी है या आपको ज्यादा मुनाफा बनाने के लिए एक निर्णय लेने में मदद करता है और कम जोखिम होता है एक सही वैल्यू पर स्टॉप लॉस लगे और स्टॉप लॉस के गणित को समझे इसको समझने के लिए आप नीचे इस आर्टिकल को पढ़ सकते हैं।

मार्जिन का उपयोग करें

मार्जिन ट्रेडिंग कम पैसे से ज्यादा लाभ कमाने का एक तरीका है या स्टॉक ब्रोकर के द्वारा ट्रेडिंग के लिए एक वरदान है जो ट्रेंड करने के लिए अतिरिक्त पैसे देते हैं मार्जिन ट्रेडिंग एक ऐसा सुविधा है जिसमें आप उन स्टॉक में ट्रेड कर सकते हैं जिन्हें खरीदने के लिए आपके पास पैसे नहीं है इसका उपयोग इक्विटी ट्रेडिंग इंट्राडे ट्रेडिंग डिलीवरी ट्रेडिंग आदि में कर सकते हैं मार्जिन ट्रेडिंग कई तरह के होते हैं जैसे प्रारंभिक मार्जिन, रखरखाव मार्जिन, वेरिएशन मार्जिन और आदि

ओवर ट्रेडिंग ना करें

अगर आप नए ट्रेंड हैं तो इन्वेस्टिंग के साथ शुरू करें और फिर ट्रेडिंग करें इसके साथ देखा गया है कि नए ट्रेंड मार्केट में आने के साथ ही ओवर ट्रेडिंग करने लगते हैं ओवर ट्रेडिंग करने से बचे जिससे ज्यादा से ज्यादा लॉस कवर हो सके अलग-अलग स्टॉक में पैसे लगे जिससे अगर एक शेयर में लॉस हो भी जाता है तो दूसरा स्टॉक आपको प्रॉफिट दिला देगा तो दोस्तों आप इंट्राडे ट्रेडिंग में ज्यादा से ज्यादा ट्रेडिंग करना चाहते हैं तो इतना पैसा से ट्रेडिंग करें जितना आप रिस्क ले सकते हैं।

सीखने की प्रक्रिया जारी रखें

शेयर मार्केट में इंट्राडे ट्रेडिंग से पैसा कमाने के लिए अनुभवी बनना जरूरी है और उनको भी बनने के लिए लगातार अभ्यास करने की आवश्यकता है एक सफल ट्रेडर बनने के लिए टेक्निकल एनालिसिस और टेक्निकल चार्ट्स और कुछ खास रणनीति को सीखें और उन्हें लगातार अभ्यास करते रहे अगर आप सीखने पर ध्यान नहीं देंगे तो आप अपने पैसे को लगातार गवाते रहेंगे।

क्या इंट्राडे ट्रेडिंग के नियम सिखाना जरूरी है।

इंट्राडे ट्रेडिंग में बिना लॉस के ज्यादा प्रॉफिट बनाने के लिए इंट्राडे ट्रेडिंग के नियम को सिखाना आवश्यक है अगर नियम से आप ट्रेडिंग करते हैं तो आप एक सफल ट्रेंडर बन सकते हैं सीखने के साथ-साथ आप इंट्राडे ट्रेडिंग के नियम को फॉलो करें।

इंट्राडे ट्रेडिंग के नियम क्या है?

ट्रेडिंग करने से पहले इस नियम को आवश्यक फॉलो करें ट्रेडिंग करने से पहले रिचार्ज पर ध्यान दें, ट्रेडिंग की शुरुआत कम पैसे से करें, अपने डर पर नियंत्रण रखें, ट्रेडिंग करते वक्त स्टॉप लॉस का इस्तेमाल करें, मार्जिन का इस्तेमाल करें, ओवरट्रेडिंग कभी ना करें और हमेशा सीखने और अभ्यास करते रहे।

निष्कर्ष

इंट्राडे ट्रेडिंग के नियम (1) सही स्टॉक का चयन करें (2) कम पैसे में इंट्राडे ट्रेडिंग की शुरुआत करें (3) भावनाओं पर नियंत्रण रखें (4) स्टॉप लॉस जरूर लगाए (5) मार्जिन का उपयोग करें (6) ओवर ट्रेडिंग ना करें (7) हमेशा सीखने की प्रक्रिया जारी रखें दोस्तों ऊपर हमने ट्रेडिंग के लिए जरूरी नियम बताएं वैसे इंट्राडे ट्रेडिंग सही तरीके से किए जाने पर बहुत फायदे हैं अगर आप सफल ट्रेडर बनना चाहते हैं तो Intraday Trading Rules in Hindi को समझे

अन्य पढ़े –

Leave a Comment